विशाखापत्तनम (विजाग) भाग्य और पर्यटन का शहर-Visakhapatnam (Vizag) city of destiny and Tourism

 

भाग्य का शहर

आँध्रप्रदेश राज्य का एक मशहूर शहर है विशाखापत्तनम। इसे  विज़ाग भी कहा जाता है। यह आँध्रप्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा शहर है जो की हमारे देश के  दक्षिणपूर्व समुद्र तट पर स्थित है। वैसे तो विशाखापत्तनम प्रमुख रूप से एक औद्योगिक शहर है लेकिन यह अपने समृद्ध संस्कृति और इतिहास, सुंदर समुद्री किनारों, हरे भरे परिदृश्यों और खूबसूरत पहाड़ियों की वजह से यह एक मशहूर पयर्टक स्थान के रूप में विकसित होकर रहा है।

विशाखापत्तनम शहर का नाम शौर्य के भगवान  विशाखा से पड़ा है। पश्चिमी घाट की खूबसूरत पहाड़ियों के बीच यह स्थित है। विशाखापत्तनम शहर को भाग्य का शहर भी बुलाया जाता है और इसके पूर्वी समुद्री किनारे को गोवा भी बोला जाता है। यह शहर यात्रियों के लिए किसी भी स्वर्ग से कम नहीं है।

पर्यटन स्थल



विज़ाग में यात्रिओं के मज़े के लिए कुछ तरह के संसाधन उपलब्ध हैं।   विशाखापत्तनम शहर में सभी लोगों के लिए कुछ न कुछ तो ज़रूर है, जैसे की – खूबसूरत पहाड़ियां,  सुंदर समुद्री किनारे, आधुनिक शहर का बुनियादी ढांचा और प्राकृतिक घाटियाँ। विशाखापत्तनम सारी ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है जैसे की, दरगाह कोंडा,  श्री वेंकटेश्वर कोंडा और रॉस हिल्स। इन तीनों पहाड़ियों में से हर एक पर विभिन्न धर्मों के पवित्र स्थान मौजूद हैं।

भगवान शिव का एक मंदिर है जो की  वेंकटेश्वर पहाडी पर है, वर्जिन मैरी चर्च रॉस हिल्स पर है और एक मुस्लिम संत बाबा इशाक मदीना का मकबरा दरगाह कोंडा पर है। विशाखापत्तनम सेहर की ओर कुछ समुस्र तट हैं जैसे की – गंगावरम बीच, यारदा बीच, ऋषिकोंडा बीच और  भिमली। कुछ दूसरे पयर्टक स्थानों में हैं – अरकू घाटी, सबमरीन संग्रहालय, कैलासगिरी हिल पार्क, वार मेमोरियल, सिंहचलम पहाड़ियां, नवल संग्रहालय और कंबलकोंडा वन्यजीव अभयारण्य हैं, जो पयर्टकों को तो ज़रूर ही देखना चाहिए। विशाखापत्तनम में मशहूर एक जगदंबा सेंटर मॉल है जहाँ आप खरीदारी के लिए भी जा सकते हैं।

आतिथ्य उद्योग

विशाखापत्तनम का आतिथ्य उद्योग दुनिया भर के स्तर पर है। यहाँ पर बहुत तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं जिनका आप मनोरंजन कर सकते हैं जो की काफी किफायती ही होते हैं। वर्तमान में तो विशाखापत्तनम एक पयर्टन स्थान बन चुका है और इसी वजह से यात्रिओं को सलाह दी जाती है की यहां आने से पूर्व वे आरक्षण ज़रूर कर लें ताकि बाद में उनको परेशानी का सामना न करना पड़े। विज़ाग में एक बहुत ही अच्छे जुड़ी हुई परिवहन प्रणाली है।

यातायात

हमारे भारत देश के सारे ही प्रमुख शहरों से विशाखापत्तनम का हवाइ अड्डा जुड़ा हुआ है। 16 किमी. की दूरी पर है विशाखापत्तनम का हवाइ अड्डा शहर के केंद्र से। रेलवे नेटवर्क के द्वारा भी भारत देश के सभी शहरों से जुड़ा हुआ है  विशाखापत्तनम। अगर आप चाहें तो सड़क मार्ग या बस परिवहन से भी विज़ाग पहुंच सकते हैं क्यूंकि विशाखापत्तनम हमारे देश के सभी ही विशाल शहरों से जुड़ा हुआ है।

मौसम

अगर आप विशाखापत्तनम की सैर करना चाहते हैं तो यहाँ आने का सबसे उत्तम समय मानसून के बाद के माह का है और  अक्टूबर से लेकर मार्च के बीच काफी ज़्यादा ठंड होती है। विज़ाग शहर में गर्मी का मौसम बहुत ही भयंकर होता है और मानसून के मौसम में बरसात भी बहुत ज़्यादा ही होती है। मौसम की परिस्थितियां इस समय पर ठीक नहीं होती तो इसी कारण ही यात्रियों को इस मौसम में विज़ाग आने की सलाह नहीं दी जाती।

यहाँ  दिसंबर- जनवरी के महीनों में  विशाखा उत्सव आयोजित किया जाता है और मनाया जाता है ताकि पयर्टन को और बढ़ावा मिल सके। इस उत्स्व के मौसम में विज़ाग आने का बहुत ही ज़्यादा लाभ होगा। हर एक यात्री को विशाखापत्तनम ज़रूर आना चाहिए क्युकी यह शहर किसी भी स्वर्ग से कम नहीं है। आइए और इस सुंदर शहर को देख कर सुखद हो जाइये।

Share Button
विशाखापत्तनम (विजाग) भाग्य और पर्यटन का शहर-Visakhapatnam (Vizag) city of destiny and Tourism was last modified: May 25th, 2018 by जनहित में जारी

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *